प्रेमिका या प्रेमी को वापस पाने के मंत्र उपाय

tantricremedy   February 22, 2019   Comments Off on प्रेमिका या प्रेमी को वापस पाने के मंत्र उपाय

Premika ya Premi ko Wapas Pane ka Mantra Upay- प्रेमिका या प्रेमी को वापस पाने के मंत्र उपाय

प्यार ”  एक मधुर एहसास, एक अनोखी भावना है प्रेमिका या प्रेमी के लिए | जिंदगी में अगर सच्चा प्यार हो तो जिंदगी जीने का तरीका ही बदल जाता है, चारों तरफ खुशहाली का ही माहौल महसूस होता है | लेकिन, कभी-कभी परिस्थितियां विपरीत हो जाने पर प्रेमी-प्रेमिका के आपस में मनमुटाव पैदा हो जाता है और दूरियां बढ़ने लगती है | ऐसे में जिंदगी बोझिल हो जाती है और व्यक्ति अपने प्रेमी\प्रेमिका को वापस पाने की चाह में डूब जाता है | आज यहां पर हम प्रेमी प्रेमिका को वापस पाने के उपाय या मंत्रों की चर्चा कर रहे हैं |

Premika ya Premi ko Wapas Pane ka Mantra Upay

Premika ya Premi ko Wapas Pane ka Mantra Upay

प्रेमी प्रेमिका को वापस पाने के लिए यह मंत्र उपाय काफी कारगर सिद्ध हुए हैं | यह मंत्र और उपाय हैं–

  १) एक रुद्राक्ष की माला लें | अब आप नीचे दिए गए मंत्र का 108 बार जाप करें | मंत्र है–”ओम् वश्यमुखी राजमुखी स्वाहा” | लेकिन, ध्यान रहे इस मंत्र का जाप ब्रह्म मुहूर्त में यानि सवेरे उठने के साथ मंजन और शौच किए बगैर करें | मंत्र का जाप करते वक्त किसी से बात भी ना करें और यह भी ध्यान रखें कि जाप के समय ना कोई देखे ना कोई टोके |11 दिन तक इस क्रिया को दोहराएं | मंत्र-जाप के समय अपने प्रेमी/ प्रेमिका का ध्यान रखें | 11 दिनों की अवधि पूरी होने पर मंत्र का स्पष्ट प्रभाव देखने को मिलेगा |

२) एक गेंदा फूल तथा पांच लहसुन की कलियां लें | आप किसी भी शनिवार को शाम के वक्त 5:00 बजे पीपल के पेड़ के नीचे इन वस्तुओं को साथ में रख दें | रखते समय जिसे आप वापस पाना चाहते हैं उसका नाम ले | यह वस्तुएं पेड़ के नीचे रखकर वापस घर आ जाए |आते समय पीछे मुड़कर ना देखें | यह क्रिया सिर्फ एक ही बार करनी है | प्रेमिका या प्रेमी को वापस पाने के उपाय में यह एक अत्यंत सरल उपाय है |

३) प्रतिदिन श्री राधा-कृष्ण के मंदिर जाए | दर्शन करने के उपरांत पुष्प चढ़ाएं व मिश्री का भोग अर्पण करें |

४) पीपल के दो पत्ते लें | ध्यान रहे पत्ते को वृक्ष से ही तोड़े जमीन में गिरे हुए पत्तों का प्रयोग ना करें | अब एक पात्र में कपूर को जला ले | फिर अब इस कपूर की भष्म से पीपल के दोनों पत्तों पर जिसका प्यार आप वापस पाना चाहते हैं उसका नाम लिखें | इसके बाद आप एक पत्ते को पीपल के वृक्ष के नीचे रख दे | इसके ऊपर एक भारी पत्थर रखें | दूसरा पत्ता लेकर अपने छत पर जाएं | इसे उल्टा करके छत पर रखे और एक छोटा सा पत्थर के ऊपर रख दे | यह करने के बाद प्रत्येक दिन पानी में चावल और चीनी डाले तथा प्रतिदिन उसी पीपल के वृक्ष के ऊपर चढ़ा दें | कुछ दिनों में फर्क नजर आएगा |

५) “ओम द्रां, द्रीं, स: शुक्राय नमः”– यह मंत्र प्रेम के स्वामी शुक्र का मंत्र है जिसके जाप करने से बिछड़े हुए प्रेमिका या प्रेमी को वापस पाया जा सकता है |

६) पुर्णिमा वाले दिन या शुक्रवार को अपने प्रिय से अवश्य मिले | अगर शुक्रवार तथा पूर्णिमा एक ही दिन पड़ता है तो इस शुभ मुहूर्त को तो कतई ना टालें | मन वांछित प्राप्त होगा |

७) प्रेमिका प्रेमी को वापस पाने के मंत्र में एक अन्य मंत्र है प्रेम के देवता अर्थात कामदेव का मंत्र | यह शाबर मंत्र के नाम से जाना जाता है | मंत्र है– “ॐ कामदेवाय विघ्महे, रति प्रियायै धीमहि,  तन्नो आनंग प्रचोदयात् |”

८) 7 दिनों तक बिना नागा हर दिन एक हजार बार नीचे दिए गए मंत्र का जाप करें | जाप करते वक्त लाल फूल की माला तथा लाल वस्त्र धारण करें | मंत्र है– “ॐ नमः” |

९) किसी शिव मंदिर जाए | श्रद्धा पूर्वक शिवलिंग को शहद से मालिश करें |

१०) प्रेम के प्रतीक कृष्ण भगवान की आराधना करें | उन्हें बांसुरी जो उन्हें अति प्रिय है और साथ में पान अर्पण करें |

११) चांदी में हीरे की एक अंगूठी बनवाएं | अपने नाम से अच्छा मुहूर्त देखकर शुक्रवार के दिन ईश्वर का स्मरण करते हुए प्रेमी/ प्रेमिका का नाम ले और धारण करें | बिछड़े हुए प्रेमी या प्रेमिका को वापस पाया जा सकेगा |

१२) तांबे का एक चौकोर टुकड़ा ले | इसपर प्रेमी / प्रेमिका का नाम लिखे कुमकुम से | अब इसे जमीन के नीचे दबा दें | अपने खोए हुए प्रिय को वापस पाने के बाद इसे जमीन के नीचे से निकाल कर नदी में प्रवाहित कर दें |

१३) राधा- कृष्ण की एक तस्वीर ले | इसे पाटा ( लकड़ी की चौकी) में अपने सामने विराजमान करें तथा नीचे दिए गए मंत्र का प्रतिदिन 21 बार जाप करें | मंत्र है–”ॐ हुं हीं स: कृष्णाय नमः” | इस मंत्र का श्रद्धा पूर्वक जाप करने से बिछड़े हुए प्रेमी प्रेमिका को वापस पाने का रास्ता आसान हो जाएगा |

१४)  विष्णु भगवान और लक्ष्मी जी की तस्वीरें लें | अब एक लकड़ी की चौकी के ऊपर लाल कपड़ा बिछाकर इस तस्वीर को विराजमान मान कर दें | धूप, दीप, रोली, मोली व पुष्प से इसकी पूजा करें | अब “ओम लक्ष्मी नारायण नमः” इस मंत्र का जाप करें | जाप तीन माला प्रतिदिन करें | इस क्रिया को लगातार 3 महीना तक दोहराएं |

१५) प्रेमी अगर प्रेमिका को वापस पाना चाहता है तो एक पुतली बनाएं और अगर प्रेमिका प्रेमी को वापस पाना चाहती है तो एक पुतला बनाए तथा इसके ऊपर अपने अपने प्रियतम का नाम लिखें | अब इस पुतला/पुतली को अपने प्रिय को दिखाएं | इस क्रिया को करने से सामने वाले के हृदय में प्रेम का संचार होगा |

१६) देवी दुर्गा मां की आराधना करें | उन्हें लाल रंग प्रिय है अतः लाल पुष्प की माला तथा लाल ध्वजा अर्पण करें |

१७) जड़ ले अपराजिता की | अब इसे पीस लें | पीसने के बाद थोड़ा सा गोरोचन मिला दे | अब इस मिश्रण की बिंदी लगा कर अपने प्रेमी/प्रेमिका से मिले | इससे प्रेमी/प्रेमिका के मन में छिपा हुआ प्रेम उभर जाएगा | अपने प्रिय को या अपने खोए हुए प्यार को वापस पाने का एक सरल उपाय |

कोई भी उपाय को प्रयोग में लेने से पहले जरूर तांत्रिक गुरु जी परामर्श कर लेवे अन्यथा गलत प्रभाव भी पड़ सकता है|