Ganesh Mohini Mantra for Love Back Success

tantricremedy   September 28, 2017   Comments Off on Ganesh Mohini Mantra for Love Back Success

Ganesh Mohini Mantra for Love Back Success- गणेश मोहिनी मंत्र फॉर लव सक्सेस

भगवान गणेश की पूजा प्राचीन काल से चली आ रही है | इनकी पूजा हर काम के आरंभ में की जाती है | गणेश जी को विघ्नहर्ता के नाम से भी जाना जाता है, जिनकी पूजा से किसी भी बाधा को पलक झपकते ही दूर किया जा सकता है | किसी भी कार्य की सफलता में उनका योगदान अति महत्वपूर्ण है | तंत्र-मंत्र प्रक्रिया में भी गणेश भगवान का विशेष स्थान है | अनेक तंत्र साधनाएं उनकी आराधना से संभव होती है | आज इसी कड़ी में हम आपके लिए गणेश मोहिनी वशीकरण के कुछ उपाय लेकर आए हैं जिन्हें आप भी आजमाए | इन उपायों के प्रयोग से आप किसी को भी अपने वश में कर सकते हैं | यह यह उपाय आपको कर्ज से मुक्ति, धन प्राप्ति, विद्या प्राप्ति, मानसिक शांति की प्राप्ति में सहायक भी होता है |

Ganesh Mohini Mantra for Love Back Success

Ganesh Mohini Mantra for Love Back Success

गणेश मोहिनी वशीकरण मंत्र के यह उपाय हैं-

१)“ मोहिनी जाल “ इस नाम से भी जानी जाती है साबर तंत्र की यह साधना | इसका प्रयोग करने वाला कभी भी अपने कार्य में विफल नहीं होता और यह साधना सभी मोहिनी साधना में श्रेष्ठ मानी जाती है | लेकिन यह साधना आप घर में ना करें | साधना के लिए निम्नलिखित सामग्री ले ले-

बादाम, स्लीरा, सफेद तथा लाल चंदन पाउडर , नारियल गोटा, अगर, तगर, जटामासी, छुहारे, काला तिल आधा किलो, हवन सामग्री एक किलो, आम की लकड़ी, पाँच लड्डू (भोग के लिए) , सिंदुर (तिलक  के लिए)

विधि- हवन के लिए किसी जंगल में रात्रि के ९.०० बजे के समय जाकर गणेश भगवान की पूजा और अर्चना करें | उसके बाद हवन को प्रज्ज्वलित करें | अब घी में सारी सामग्री मिला लें और नीचे दिए गए मंत्र का ११०० आहुति देते हुए जाप करें | अपने सामने  सिंदूर की डिब्बी को खुली हुई रखें | लड्डुओं का भोग लगाकर उसे वहीं छोड़ दे और सिंदूर की डिब्बी  अपने साथ  वापस घर ले साधना पूरी होने के बाद | अब इस  सिंदूर को  आप  जिसके सामने लगाकर जाएंगे वह आप से वशीभूत हो जाएगा | मंत्र है –

” ओम गणपति वीर वसे मसान, जो मैं मांगु सो तु आन |

पाँच लड्डू वा सिर संदूर त्रिभुवन मांगे चंपे के फूल |

अष्ट कुली नाग मोहा जो नाड़ी बहत्तर कोठा मोहु |

इंदर के बैठी सभा मोहु आवती जावती स्त्री  मोहु |

जाता जाता पुरुष मोहु | डावा अंग वसे  नर  सिंह  जीवने क्षेत्र पाला ये |

आवे  मारकरनता सो जावी हमारे पाउ पड़न्ता |

गुरु की शक्ति हमारी भगती चलो मंत्र आदेश गुरु का |”

२) ”ह्वीं त्रीन् त्रीन् त्रीन् क्रीं फट स्वाहा”.. इस मंत्र का जाप किसी को भी आपके वश में कर सकता है | इसके लिए आप सबसे पहले काले धतूरे की जड़ को अपने मुत्र से घस ले और हरताल (शोधित) को भवित करें १० बार और सुखा लें | अब शहद में काली मिर्ची  कमल का फूल, दूब और काला धतूरा मिला लें शहद में | फिर  इससे १०,००० मंत्रों द्वारा जाप करते हुए हवन करें | इस वक्त आप जिसको ध्यान में रखेंगे वह आपके वश में हो जाएगा |

३) गणेश तंत्र मंत्र साधना में विवाह के लिए भी एक मंत्र बताया गया है | यह मंत्र है-” कलकामदाय: नमः कामनीकांतकाश्रय नमः” .. विवाह विनायक गणपति को स्थापित करे मुख्य दरवाजे पर अपने घर के | साथ ही साथ  ऊपर दिए गए मंत्रों का  जाप करें | इस साधना से विवाह संबंधी सभी बाधाएं दूर होगी और मनवांछित वधु या वर की प्राप्ति होती है |

४) ”ज्ञानमुद्रावते नमः  विद्यानिहार्य नमः ज्ञानरूपाय नमः “.. गणेश  तंत्र साधना का यह मंत्र विद्यार्थियों के लिए बहुत ही उपयोगी है | जिसका  पढ़ाई में  मन स्थिर नहीं रहता या नहीं लगता वे लगाएं  विद्या प्रदायक गणपति की मूर्ति अपने घर के  प्रमुख दरवाजे पर | मूर्ति -स्थापना के समय दिए गए मंत्रों का जप करें |

५ ) ”गर्भ दोषहयो नम: संतान गंतत्ये नमः”.. इस मंत्र का जाप करने से जिनके संतान नहीं होती हो उन्हें भी संतान सुख की प्राप्ति होती है | मंत्र की जाप संख्या होनी चाहिए १०८ | यह प्रक्रिया प्रतिदिन करें साथ में गणेश जी की पूजा-अर्चना भी करें |

६) गणेश मंत्र फॉर सक्सेस\लव के लिए  “विजय स्थिराय नमः” मंत्र का १०८ बार  जाप करे | इस मंत्र का जाप और भगवान गणेश के कृपा आपको किसी भी  झूठे मुकदमे या  पुलिस के आरोप से मुक्ति दिलाएगा और अदालत में आप विजयश्री प्राप्त करेंगे | .

७) मानसिक अशांति और  अन्य किसी विपत्ति में अगर आप फंस गए हो तो उसकी मुक्ति के लिए आप “ ओम नमः निर्हन्याय: नमः”  मंत्र का  जाप करें और अपनी समस्या से मुक्ति पाएं |

८) गणेश तंत्र मंत्र साधना का एक और अत्यंत ही प्रभावशाली मंत्र जिसकी साधना आपके जीवन में बड़ा ही चमत्कारिक परिवर्तन लाएगी | मंत्र है –”ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुडं गणपति गुरू गणेश | ग्लौम गणपति, रिद्धि पति, सिद्धी पति, मेरे कर दूर क्लेश||” –इस मंत्र की साधना को आरंभ करने के सबसे पहले शिव, पार्वती एवं गणेश जी की प्रतिदिन विधि विधान से पूजा करें | फिर इस मंत्र का जाप करें १०८ दफा | इस मंत्र का प्रयोग करते समय आपको सर्वदा सात्विक रहना जरूरी है |

९) ”ऋणत्रय: विमोचाय नमः” किसी भी तरह का कर्जा अगर आपके सिर पर चढ़ गया हो तो जाए गणेश जी की शरण में | उनकी प्रतिमा को घर के पूजा घर में स्थापित करें और दिए गए मंत्र का लगातार जाप करे |

१०) आर्थिक परेशानी को दूर करने के लिए आप अपने घर में धनदायक गणपति को स्थापित करें चतुर्दशी वाले दिन | अब भगवान गणेश का उपवास रखते हुए उनसे प्रार्थना करें और नीचे दिए गए मंत्र का जाप करें | मंत्र है-”सिद्ध लक्ष्मी मनोहर: प्रायय: नमहः मणिकुण्डलमंडिताय नमहः श्रीपतये नमहः”

११) “ओम गणपतये शत्रुहंताय नमहः “ रोज सवेरे स्नानानोपरान्त आसन पर बैठ जाएं सफेद रंग के वस्त्र पहनकर | मंत्र का १०८ बार जाप करें | इसके बाद मंदिर में जाकर गणेश जी का दर्शन करे |  कैसा भी शत्रु क्यों न हो उसकी पराजय निश्चित है |

गणेश मोहिनी मंत्र का प्रयोग करके किसी को भो मोहित किया जा सकता है| कोई भी साधक गणेश मंत्र का प्रयोग कर किसी भी मुश्किल हालत से निजात पा सकता है| यदि आपके दुश्मन को दूर करना है तो गणेश मंत्र का प्रयोग कर इसमें सफलता हासिल की जा सकती है| कोई भी तंत्र विधि को प्रयोग में लाने से पहले अवश्य तांत्रिक गुरु जी से सलाह मश्वरा कर लेवे|