उड़द की दाल के दाने से वशीकरण मंत्र टोटके

tantricremedy   March 18, 2019   Comments Off on उड़द की दाल के दाने से वशीकरण मंत्र टोटके

उड़द की दाल के दाने से वशीकरण मंत्र टोटके

जाने कैसे उड़द की दाल के दाने से करे वशीकरण मंत्र टोने टोटके तांत्रिक गुरु जी द्वारा सिद्ध सफल उपाय को प्रयोग कर करे कोई भी कार्य पूर्ण| काले उड़द का एक छोटा सा दाना भी तंत्र मंत्र में एक प्रभावशाली हथियार सिद्ध हो सकता है, यह हर किसी को शायद ही पता हो। इसीलिए, इस तथ्य से अवगत कराते हुए हम आज के स्तंभ में लेकर आए हैं उड़द से वशीकरण मंत्र टोटके। इनमें से किसी भी टोटके और मंत्र को अपनाकर व्यक्ति अपने मन की इच्छा को पूर्ण कर सकता है। बस ध्यान देने योग्य बात यही है कि कोई भी टोटका अपनाया जाए, अपनाने वाले का मन, विचार और उद्देश्य एकदम पवित्र हो। वरना, इन टोटकों का उल्टा असर भी पड़ने की संभावना है और इसका फल कष्टदाई हो सकता है इस बात का भी ध्यान रखें।

उड़द की दाल के दाने से वशीकरण मंत्र टोटके

उड़द की दाल के दाने से वशीकरण मंत्र टोटके

तो लीजिए, पेश है उड़द से वशीकरण मंत्र टोटके-

१) “ओम हनुमते नमः” इस मंत्र का व्यवहार करे शत्रु को वशीभूत करने के लिए। इसके लिए सबसे पहले आपको सवा किलो काले उड़द की दाल, सवा किलो कोयला और एक मीटर काला कपड़ा चाहिए। शनिवार के दिन काले कपड़े में कोयला और उड़द की दाल को बांध ले और ऊपर दिए गए मंत्र का जाप करते हुए अपने सर के ऊपर से घुमाएं २१ बार। इस क्रिया को लगातार सात शनिवार तक दोहराएं। उड़द से वशीकरण मंत्र टोटके का यह एक प्रभावशाली मंत्र है।

२) उड़द के दाने से वशीकरण मंत्र टोटका का एक अन्य सरल मंत्र है– “ॐ जयंती मंगलाकाली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा समा सेवादात्रि स्वाहा सुदा नमोस्तुते” इस मंत्र को प्रारंभ करने के लिए आपको १०८ साबूत काले उड़द के दाने, आटे का दीपक और सरसों तेल की जरूरत पड़ेगी। क्रिया प्रारंभ करने के लिए पहले आप आटे का दीपक जलाएं सरसों तेल डालकर। अपने सामने उड़द के दाने रखें। अब सीधे हाथ से एक उड़द का दाना उठाए और जिसे आप को वश में करना है उसका नाम लेते हुए दिए गए मंत्र का जाप करें तथा दाने को उल्टे हाथ की हथेली में रख दें। अब दूसरा दाना उठाएं और इसी क्रिया को दोहराएं। इस तरह हर बार एक-एक दाना उठाते जाए, संबंधित व्यक्ति का नाम ले, मंत्र जाप करें और दाने को उल्टे हाथ की हथेली पर रख दे। इस तरह से १०८ बार मंत्र पाठ संपूर्ण करें। अब सारे दानों को इकट्ठा कर उसी आटे के दीपक में डाल के बंद कर दे। फिर किसी सूनसान स्थान पर जाएं, गड्ढ़ा खोदें व उसके अंदर दीपक को रखें। ऊपर से मिट्टी से अच्छी तरह से दबा के गड्ढे को ढ़क दें। वापस संबंधित व्यक्ति का नाम लेते हुए तीन बार उस स्थान को ठोकर मारें और घर वापस आ जाए। आते वक्त पीछे मुड़कर ना देखें।

३) उड़द के दो साबूत दाने ले। इसके ऊपर दही और सिंदूर डालें तथा जिसे वश में करना है उसका नाम लेते हुए पीपल के वृक्ष के नीचे रख दें।  यह क्रिया लगातार २१ दिनों तक प्रतिदिन करें और वापस आते वक्त पीछे मुड़कर ना देखें। इस क्रिया को शनिवार से आरंभ करें।

४) ढाई सौ ग्राम काला तिल और सवा किलो उड़द की दाल को आपस में मिलाकर पीस लें। अब इस से प्राप्त हुए आटे को गूंथ लें और दीपक बनाए। सरसों तेल डालकर दीपक को जलाएं और हनुमान जी को अर्पण करें। हनुमान जी को अर्पण करने का तरीका इस तरह रखे की प्रथम मंगलवार को एक दीपक, दूसरे मंगलवार को दो दीपक, तीसरे मंगलवार को तीन दीपक और इसी तरह बढ़ते हुए क्रम में ११ वें मंगलवार को ११ दीपक जलाएं एवं वापस इसी तरह घटते हुए क्रम में इस क्रिया को दोहराएं अर्थात अंतिम दिन एक दीपक जलाए। यह टोटका आपके  मन की मुराद को अवश्य पूरा करेगा।

५) काली उड़द के ३८ साबूत दाने और ४० दाने साबुत चावल के लेकर मिला लें। अब किसी सुनसान स्थान में जाकर मिट्टी खोदकर इन्हें दबा दें और इसके ऊपर एक नींबू काट कर उसका रस निचोड़ दें। रस निचोड़ते वक्त जिसे अपने वश में करना चाहते हैं उसका नाम लेते रहें। बस, ध्यान रखें इस वक्त किसी की नजर आप पर ना पड़े। आपका शत्रु आपके वश में हो जाएगा।

६) अगर आप शनि दोष से ग्रसित है तो इसे दूर करने के लिए चार बड़े-बड़े साबुत दाने उड़द की दाल के लें। शनिवार को प्रातः काल अपने सिर से इन्हें तीन बार उल्टा घुमाकर कौओं को खिलाएं। इस क्रिया को हर शनिवार दोहराएं।

७) अपने पलंग के नीचे एक बर्तन रखे और इसमें सरसों तेल डाल दें। यह कार्य आप शनिवार को करें। अब दूसरे दिन अर्थात रविवार को उड़द की दाल के कुछ गुलगुले बनाएं पलंग के नीचे रखे हुए उसी तेल से। इन गुलगुलों को गरीबों और कुत्तों को खिला दिया जाए तो आपके घर से गरीबी का पलायन और लक्ष्मी का आगमन होगा।

८)  उड़द की दाल को पीस कर दो बड़े बनाएं। सूर्यास्त के समय इन बड़ों पर दही और सिंदूर लगाएं उस व्यक्ति की कल्पना करते हुए जिसे आप को वश में करना है। यह करने के बाद किसी पीपल के वृक्ष के नीचे इन बड़ों को रखे, पीपल को प्रणाम करते हुए अपने कार्य की सफलता की प्रार्थना करें। अब वापस घर लौट आए और आकर स्नान कर लें। ध्यान रहे, वापस लौटते वक्त आप मुड़ कर पीछे ना देखें। यह टोटका आप शनि जयंती को या शनिवार को पड़ने वाली अमावस्या के दिन ही करें।

९) काले उड़द के सात साबूतदाने, एक सिक्का और सात साबुत गांठ हल्दी के लें। इसे एक पीले कपड़े में बांधकर अर्ध रात्रि में किसी चौराहे पर फेंक दे। इस समय अपने कामना को दोहराएं और बिना देखे वापस घर आ जाएं। यह क्रिया किसी भी गुरुवार के मध्य रात्रि में की जा सकती है।

कोई भी साधक जाने कैसे उड़द की दाल से करे वशीकरण टोने टोटके तांत्रिक गुरु जी द्वारा सिद्ध सफल उपाय को प्रयोग कर करे कोई भी कार्य पूर्ण| किसी भी उपाय को आजमाने से पहले तांत्रिक गुरु जी से सलाह अवश्य ले लेवे सटीक पूर्णता मिलेगी|